Thick Brush Stroke

अगर आप में हैं ये गुण, तो आप हैं परफेक्ट मां

बच्चे के लिए पेरेंट्स ही उनके सबसे पहले शिक्षक होते हैं. पेरेंट्स बच्चों का पालन-पोषण करते हैं और उन्हें गाइड करते हैं. 

आज हम आपको कुछ ऐसी क्वालिटी के बारे में बताने जा रहे हैं जो हर मां के अंदर होनी चाहिए.

आत्म जागरूकता (Self Awareness)-  बच्चे को समझने के लिए जरूरी है कि आप सबसे पहले खुद को समझें. जो व्यक्ति अपनी ताकत और कमजोरियों को लेकर जागरूक होता है. 

उसे चीजों को बेहतर तरीके से मैनेज करना आता है और वह आसानी से अपने बच्चे की ताकत और कमजोरी को भी पहचान सकता है.

सुनने की आदत-  हर बच्चा चाहता है कि उसकी मां बिना जज किए उसकी हर बात को सुने. जैसे-जैसे बच्चे बड़े होते जाते हैं,वह अपने विचारों, भावनाओं और अनुभवों को.बिना किसी फिल्टर के शेयर करते है. 

स्ट्रॉन्ग बनें- हर मां को सोसाइटी में कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ता है. कई बार बच्चों के क्लास में नंबर कम आने या  बीमार होने पर मां को सुना सुनाया जाता है. इन सभी मामलों में जरूरी है कि आप स्ट्रॉन्ग बनें. 

विनम्र बर्ताव- पेरेंट्स बनने के बाद माता-पिता खुद को बड़ा महसूस करने लगते हैं. लेकिन ये बात आप भी जानते हैं कि पेरेंटिंग के दौरान पेरेंट्स गलतियां भी करते हैं. लेकिन अक्सर माता पिता अपनी गलतियों के लिए बच्चों से कभी भी माफी नहीं मांगते. 

ऐसे में जब आप बच्चों से अपनी गलतियों पर माफी नहीं मांगते तो वह धीरे-धीरे आपकी तरह होने लगते हैं.  सपोर्टिव बनें- एक और क्वालिटी जो हर मां में होनी चाहिए .वो है बच्चों को सपोर्ट

करना. कई बार ऐसा होता है जब बच्चे कई ऐसे फैसले और निर्णय लेते हैं जो माता-पिता को पसंद नहीं आते. लेकिन जरूरी है कि आप उन्हें अपने फैसले खुद लेने की आजादी दें और उनके हर फैसले में उन्हें सपोर्ट करें.